Interviews

सुजॉय घोष सबसे अच्छे डायरेक्टर में से एक है- हरीश खन्ना

नेटफ्लिक्स की वेब सीरीज ‘टाइपराइटर’ के अभिनेता हरीश खन्ना ने कहा कि हॉरर-थ्रिलर वेब सीरीज के डायरेक्टर सुजॉय घोष, सबसे अच्छे डायरेक्टर हैं, और वह अपने एक्टर्स की रिस्पेक्ट करते हैं।

 

मीडिया से हुई बातचीत  के दौरान, टाइपराइटर’ के डायरेक्टर सुजॉय घोष के साथ काम करने के अपने एक्सपीरियंस को शेयर करते हुए, हरीश ने कहा, “मुझे अक्सर  महान डायरेक्टर्स के साथ काम करने का  मौका मिला है, जैसे- 7 खून माफ़ में विशाल जी के साथ,  गैंग्स ऑफ वसेपुर में अनुराग कश्यप के साथ, तृष्णा एंड वेडिंग गेस्ट में माइकल विंटरबॉटम के साथ, मीरा नायर की गॉड्स रूम, लीना यादव की राजमा चवल, आशिक अबू की रानी पद्मिनी, और बहुत सारी फिल्में। मैं उन लकी एक्टर्स में से  हूं, जिन्हें सिनेमा में मास्टर्स के साथ काम करने का मौका मिला और वे सभी निर्देशक, एक्टर्स से उनके विचार लेने के लिए ओपन है, और एक्टर्स को फ्रीडम भी देते हैं। और अब मुझे अपने फेवरेट, डायरेक्टर और थ्रिलर मास्टर के साथ काम करने का भी मौका मिला, जिसके साथ मैं हमेशा से काम करना चाहता था और मेरा ये सपना नेटफ्लिक्स की वेब सीरीज ‘टाइपराइटर’ से पूरा हुआ। मैं सुजॉय दा का शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने मुझे मूसा का इतना चैलेंजिंग रोल दिया। सुजॉय दा सेट पर सबसे शांत और कूल परसन हैं। वह अपने एक्टर को पूरी लिबर्टी देते हैं, ताकि वे अपनी इच्छाओं के अनुसार अच्छा कर सके। वे अपने एक्टर्स की रिस्पेक्ट करते है और मैंने कभी भी उन्हें एक्टर्स पर गुस्सा होते हुए नहीं देखा है। ”

 

‘टाइपराइटर’ गोवा में सेट है, और इसकी कहानी एक हॉन्टेड हाउस और एक बुक ‘द घोस्ट ऑफ सुल्तानपुर’ के इर्द गिर्द घूमती है। हरीश खन्ना ने टाइपराइटर में मूसा की भूमिका निभाई है,  अपने कैरेक्टर के बारे में बात करते हुए हरीश ने कहा, “इसमे मेरा किरदार शो के एक नरेटर की तरह है और साथ ही कहानी के एक हिस्से में कई लेयर वाला कैरेक्टर भी है, जो घोस्ट ऑफ सुल्तानपुर और फकीर के बारे में बहुत कुछ जानता है। कहानी की शुरूआत में, मेरा किरदार एक खतरनाक आदमी के रूप में सामने आता है, लेकिन धीरे-धीरे वह बच्चों के साथ दोस्त बन जाता है और वह उन्हें ‘सुल्तानपुर के भूत’ के बारे में कहानियां सुनाता है और भूत को ढूढने के मिशन में उनकी मदद करता है। सुजॉय दा ने मुझे एनिमल फ़ार्म से  बेंजामिन के किरदार का केवल  एक ही सुराग दिया और फिर मैने कैरेक्टराइजेशन के लिए रिसर्च की शुरुआत की। मैं सबसे टैलेंटेड एक्टर निर्मल दास को धन्यवाद देना चाहता हूं, जो हाल ही में सिज़ोफ्रेनिया से पीड़ित थे, मूसा के चरित्र को डेवलप करने के लिए मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं (धन्यवाद निर्मल हम सभी आपसे प्यार करते हैं और आपको याद करते हैं)। मैं टाइपराइटर की पूरी टीम को धन्यवाद देता हूं। धन्यवाद सुजॉय दा और धन्यवाद नेटफ्लिक्स इंडिया। टाइपराइटर की शूटिंग करने में मजा आया।”

 

हरीश ने अपने अपकमिंग प्रोजेक्ट के बारे में बात करते हुए कहा, मैं चार इंडिपेंडेंट फिल्में कर रहा हूं। “तथागत” नाम की एक फिल्म है, जिसमें मैं मुख्य भूमिका निभा रहा हूं और इसे मानव कौल डायरेक्ट करेंगे। मैं “12×12” नामक एक फिल्म कर रहा हूं, जिसे गौरव भाटिया डायरेक्ट करेंगे। एक और फिल्म है, जिसका नाम है ‘द कलर ऑफ लॉस ऑर ब्लू’ जिसे आकाश भाटिया डायरेक्ट करेंगे। और एक फिल्म है “ऐसे ही” जिसे किस्लाय ने डायरेक्ट किया है। सभी फिल्मों का कंटेंट बहुत ही अच्छा हैं और मै मेन लीड में हूं। और कुछ स्क्रिप्ट अभी पढ़ रहा हूँ।

 

हरीश खन्ना NSD का दौरा कर रहे हैं, और उन्हें NSD 1993 में एक अभिनेता और रॉयल सेंट्रल स्कूल ऑफ स्पीच एंड ड्रामा लंदन यूके के रूप में ट्रेंड किया गया है।

 

19 जुलाई 2019 को नेटफ्लिक्स पर ‘टाइपराइटर’ का प्रीमियर हुआ।

Close